J. Krishnamurti's Teachings Online in Indian Languages (Hindi, Punjabi, Gujarati, Marathi, Bengali etc.)







Krishnamurti Retreat Centre , Uttarkashi


Krishnamurti Retreat Centre (KRC) is located on the banks of the river Bhagirathi in Uttarkashi, which is on the ancient pilgrim route from Rishikesh to Gomukh, the origin of the river Ganga. Sitting atop the high bank of the river, on about 1.4 acres of land, the retreat has as its backdrop the steep mountain slopes covered with pine forests. Set in the quiet rural environs of Ranari village, the retreat is surrounded by mountains and green fields on all sides.

Read more >>


तो हमें करना क्या होगा?


मेरे विचार में कर्म की समस्या से हमारा गहरा सरोकार आवश्यक है | जब इतनी सारी समस्याएं हमारे सामने हैं--गरीबी, अधिक जनसंख्या, यंत्रों का असाधारण विकास, औद्योगीकरण, आतंरिक तथा बाह्य रूप से गिरावट का एहसास--तो हमें करना क्या होगा?

Read more >>

Desire and Longing


For most of us, desire is quite a problem—the desire for property; for position, for power, for comfort, for immortality, for continuity, the desire to be loved, to have something permanent, satisfying, lasting, something which is beyond time. Now, what is desire?

इच्छा और लालसा


अधिकांशतः हमारे लिए इच्छा एक समस्या ही है -- धन-संपदा की इच्छा, प्रतिष्ठा की, शक्ति की, ऐशो-आराम की, अमरता की, निरंतरता की इच्छा, प्रेम पाने की इच्छा, किसी ऐसी चीज़ की इच्छा जो स्थायी हो, त्रुप्तिदायी हो, कालजयी हो, कुछ ऐसी चीज़ जो कल से परे हो | तो इच्छा क्या है?

Read more >>

Question: Why do we fight in this world?


Krishnamurti: Why do we fight? You want something and I want the same thing, so we fight for it. You are clever, I am not clever, and we fight about it.

प्रश्न : इस संसार में हम आपस में लड़ते-झगड़ते क्यों हैं?


कृष्णमूर्ति : हम लड़ते-झगड़ते क्यों हैं | आप किसी चीज़ को पाना चाहते हैं और मैं भी उसे पाना चाहता हूं इसलिए उसे पाने के लिए हम एक दूसरे से लड़ते-झगड़ते हैं | आप होशियार हैं, मैं होशियार नहीं हूं और इस पर हम झगड़ते हैं |

Read more >>    top of page ↑